मोदी सरकार 5 साल फ्री देगी राशन क्या है PM गरीब कल्याण अन्न योजना ?

लोकसभा चुनाव 2024 को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तेलंगाना में काफी भरा फैसला लिया है। भारत देश के 80 करोड़ से ज्यादा लोगों को मुफ्त में अनाज देने वाली योजना प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को 5 साल तक और बढ़ा दिया गया है। प्रधानमंत्री मोदी जी के बैठक में यह योजना में बदलाव किए गए हैं आइए हम यह रिपोर्ट में जानते है। कि ये योजना से कितने किसान भाइयों को फायदा होने वाला है और कबतक होगी और सरकार ये योजना पर कितना पैसा खर्च करने वाली है।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (PMGKY) क्या है ?

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना आत्मनिर्भर भारत के रूप में पेश किया है। याह योजना के तहत भारत के प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी सभी किसान भाइयों को प्रतिमा 5 किलो अनाज देती है। यही नहीं इस स्कीम के तहत राष्ट्रीय खवाद सुरक्षा अधिनियम यानी एनएफएसए के तहत 2 से 3 ₹ प्रति किलोग्राम की लागत वाली सब्सिडी वाला राशन भी देती है। यह योजना का लाभ उन लोगों को मिलता है जो सार्वजनिक वितरण प्रणाली यानि पीडीएस अंतरगत में आते हैं।

सरकार यह योजना पर कितना खर्च करती हैं।

यह योजना पर मोदी सरकार ने कुल 3.91 लाख करोड़ खर्च किये गये थे. यह योजना कितने चरण में चली ये निमन्लिखित में दिया गया हैं।

  • पहला चरण अप्रैल 2020 से जुलाई 2020 तक चला।
  • दूसरा चरण जुलाई 2020 से नवंबर 2020 तक चला।
  • तिसरा चरण माई 2021 से जून 2021 तक चला।
  • चौथा चरण जुलाई 2021 से नवंबर 2021 तक चला।

यह पंच चरणों के बाद सरकार यह योजना को national food security अधिनियम के साथ जोड़ दिया फिर इसे 1 साल के लिए आगे बढ़ा दिया गया यानि 31 दिसंबर तक आगे बढ़ा दिया गया.

किन लोगों को मिलता है इस स्कीम का लाभ

अंत्योदय अन्न योजना (AAY): सबसे गरीब परिवार, आम तौर पर भूमिहीन खेतिहर मजदूर, सीमांत किसान और विवश तरीके वाले अन्य।

पूर्ववर्ती परिवार (PHH): सीमित लाभ और असुरक्षा वाले परिवार, जैसे ग्रामीण कारीगर, झुग्गी-झोपड़ी में रहने वाले और दैनिक वेतन कमाने वाले।

अनिवार्य रूप से, PMGKY सभी और विविध लोगों को NFSA श्रेणियों एएवाई और पीएचएच के तहत राशन कार्ड रखने का आशीर्वाद देता है, जिससे उन्हें प्रति माह प्रति व्यक्ति पांच किलो अतिरिक्त खाद्यान्न मिलता है

ये भी पढ़े:) Sevayojana

Leave a Comment